Sunday, 6 January 2019

कोर्ट ने विजय माल्या को किया भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित, जब्त हो सकेगी संपत्ति…

भारत के लिए मुसीबत बने शराब कारोबारी को मुंबई की एक विशेष पीएमएलए अदालत से करारा झटका किया है. बताते चले  कई बैंकों से 9, करोड़ रुपये से अधिक का कर्ज लेकर भारत से भागे शराब कारोबारी विजय माल्या को स्पेशल प्रिवेन्शन ऑफ मनी लॉन्ड्रिग ऐक्ट कोर्ट ने आर्थिक भगोड़ा अपराधी घोषित किया है। कोर्ट ने विजय माल्या को आर्थिक भगोड़ा घोषित किए जाने के बाद अब सरकार को उसकी संपत्तियों को जब्त करने का अधिकार मिल सकेगा।कोर्ट ने माल्या की उस अपील को भी खारिज कर दिया है जिसमें उनसे कोर्ट से कुछ समय देने की मांग की थी।

पिछले महीने ही सरकार ने को लोकसभा में बताया था कि वह विजय माल्या, नीरव मोदी, मेहुल चौकसी, नितिन और चेतन संदेसरा, ललित मोदी सहित कुल 58 ऐसे भगोड़ों को वापस लाने की कोशिशों में जुटी है, जो यहां घोटाले के बाद विदेश फरार हो गए और वहां रह रहे हैं। इंटरपोल में रेड कॉर्नर नोटिस और विभिन्‍न देशों से प्रत्यर्पण की अपील के जरिये इन्‍हें वापस लाने की कोशिश की जा रही है।

Special PMLA Court refused his application to stay the order to give him some time to appeal. https://t.co/HXbdPCxJgg

ANI (@ANI) January 5, 219

आपको बता दें कि भारत सरकार ब्रिटेन से माल्या का प्रत्यर्पण कराने की कोशिश कर रही है। भारत में माल्या की कई संपत्तियां भी जब्त हो चुकी हैं।  ब्रिटेन की एक अदालत ने विजय माल्या का भारत को प्रत्यर्पण करने का आदेश दिया है। विजय माल्या के पास ऊंचे कोर्ट में अर्जी देने का भी विकल्प है। विजय माल्या का ट्रायल पिछले साल 4 दिसंबर को शुरू हुआ था।

बैंकों का 9, करोड़ रुपये का कर्ज नहीं चुकाने के मामले में भारत को माल्या की जरूरत है। ब्रिटेन की वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट अदालत की प्रमुख मजिस्ट्रेट एम्मा अरबुथनोट ने कहा, ‘कि इस बात के कोई संकेत नहीं है कि उनके खिलाफ झूठे मामले लाये जा रहे हैं।’

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे - अभी वोट करें

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.