Saturday, 2 March 2019

अभिनंदन की बहादुरी पर फिदा हुआ रूस, पीएम मोदी को फोन कर पूछा-कैसे अभिनन्दन ने उड़ा दिया मिग-21 से F-16

आज हमारा पूरा देश इस बात से खुश है कि उसका शेर यानि की भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन आखिरकार अपने वतन लौट चुका है। लेकिन क्या आपको पता है अभिनंदन के बहादुरी की मुरीद भारत ही नहीं बल्कि विदेशी देश भी हो चुके हें। जी हां बता दें कि इनकी चर्चा न केवल भारत में हो रही है बल्कि दुनिया भर में ये खुब नाम कमा रहे हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि विदेशी देशों में पाकिस्तान भी शामिल है जो अपने हिरासत में रखे भारतीय जवान के हौसले की तारीफ कर रहा है। बात ही कुछ ऐसी है कि हर किसी के जुबां पर अभिनंदन का नाम आने से रूक नहीं पा रहा है।
जी हां जैसा कि आप सभी जानते ही होंगे कि अभिनंदन ने मिग-21 से एफ-16 को ढेर कर दिया था । जी हां आपको शायद पता नहीं होगा कि अभिनंदन ने फोर्थ जनरेशन के फाइटर जेट को 60 के दशक के जेट से गिराया। यही वजह है कि उनके इस बहादुरी की चर्चा हर जगह हो रही है। इस घटना से सभी हक्के बक्के हैं और रुस में कफी ज्यादा हलचल है। ये तो सच है कि रुस के भारत से काफी ज्यादा ही गहरें संबंध है और यही कारण है कि रुस विंग कमांडर अभिनंदन को लेकर काफी उत्साहित हैं। रुस के राष्ट्रपित व्लादिमीर पुतिन भी विंग कमांडर अभिनंदन के तेज दिमाग औऱ हुनर के कायल हो गए हैं।
रूस के राष्ट्रपति का मानना है कि मिग 21 से एफ 16 को खत्म कर देना इतना आसान नहीं है और न ही इससे हर कोई कर सकता है लेकिन अभिनंदन ने जो किया वाकई में काबिले तारीफ है। इस घटना से रुस को भी अब अमेरिका पर मनोवैज्ञानिक बढ़त मिली है। इसके बाद रुस के राष्ट्रपति भारत के इस शौर्य से इतने प्रभावित हुए की उन्होंने पीएम मोदी से फोन पर बात भी की है। जी हां उन्होने इस दौरान चर्चा कि मिग से F-16 को उड़ाया गया है। इसमें पाकिस्तान को जितनी खलबली मची है अमेरिका में भी हलचल बढ़ गई है।
आपको बता दें कि मिग-21 को रूस ने करीब 1958 में बनाया था और दूसरी ओर एफ-16 1998 का बना जेट है। इन दोनों की खासियत अपने आप में है पर जानकर हैरानी होगी कि मिग-21 की कीमत सिर्फ दो मिलियन डॉलर है तो वहीं एक एफ-16 18.8 मिलियन डॉलर का है। यही कारण है कि इन दोनों की रफ्तार में भी काफी अंतर है। भारत को उनपर गर्व है। पाकिस्तान भी उनके साहस औऱ वीरता को देखकर हैरान रह गया। भारतीय कमांडर जब पाकिस्तान की जमीं पर पहुंचे तो उन्हें पता नहीं था कि वो पाक में हैं और उन्होंने भारत के लिए नारे लगाए। जब उन्हे सच का पता चला तो भी उनके चेहरे पर शिकन तक नहीं आई और वो गर्व के साथ अपनी बातें बोलते रहें।
घर बैठे फ्री पैसे कमाने के लिए क्लिक करे यहाँ जाये
आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे – अभी वोट करें
पोस्ट को अधिक से अधिक लाइक एवं शेयर करें.