Monday, 11 March 2019

देखे, लड़कियों की मजबूरी का फायदा उठाते हैं पुरुष तो ऐसा ना करें लड़कियां- रीमा शेख..

टीवी के शो तुझसे ही राब्ता से इस समय अपनी लगातर पहचान बना रही रीमा शेख ने हाल ही में एक इंटरव्यू में शिरकत की इस दौरान रीमा ने अपने करियर के साथ ही कई ऐसी बातें बताई जो कि किसी भी लड़की को उसकी हक की लड़ाई लड़ने के लिए हिम्मत देती है।जी हां इस दौरान रीमा ने अपने शो के एक्सपीरिंस के बारे में बात करते हुए बताया कि-मैंने देखा कि कल्याणी आज के जमाने की लड़की है जो सही बात बोलती है। उसे यह डर नहीं है कि लोग क्या कहेंगे। वह अपनी बात को प्रूव भी करती है। कल्याणी के पास हर चीज का जवाब है। 

गौरतलब है रीमा ने बहुत कम उम्र में ही एक्टिंग करियर शुरु कर दिया था इस मामले में रीमा ने कहा-मेरा मानना है कि पैरंट्स का सपोर्ट बहुत मायने रखता है। अगर बच्चों को पता है कि हमें क्या करना है तो वह काम ईमानदारी से काम करना चाहता। मैंने यह फील्ड खुद चुनी थी। तभी डिसाइड कर लिया था कि अगर ऐक्टिंग करनी है तो पढ़ाई भी मैनेज करनी होगा। मैं नहीं चाहती कि मेरी ऐक्टिंग का प्रेशर मेरी पढ़ाई के रास्ते में आए। मैंने सबकुछ मैनेज किया। जहां तक लड़कियों की बात है तो बच्चों से पहले पैरंट्स की सोच बदलनी पड़ेगी। 

कुछ समय पहले इंडस्ट्री में चल रहे मीटू कैंपन के बारे में जब रीमा से पूछा गया तो उन्होनें कहा-मीटू को लेकर सुना बहुत कुछ, पर मेरा ऐसा कोई एक्सपीरियंस नहीं रहा। यह जरूर कहूंगी कि लोग लड़कियों की मजबूरी का फायदा उठाते हैं, जो नहीं करना चाहिए। लड़कियों को खुद को ऐसे प्रेजेंट करना चाहिए कि किसी की हिम्मत न हो कि आपसे आकर कोई गलत बात कर सके। जो शादीशुदा महिलाएं हैं वे अपने पति पर भी पूरी तरह से निर्भर न हो जाएं। 

रीमा कहती है कि अगर पति को लगेगा कि मेरे अलावा कहां जाएगी तो पति टेकन फॉर ग्रांटेड लेने लगते हैं, लापरवाही बरतते हैं या भलाबुरा कहते हैं। इसलिए इंडिपेंडेंट बनें। जब पुरुषों को अगर लगेगा कि अगर मैं कुछ गलत करूंगा तो यह मेरे मुंह पर चाबी फेंककर घर छोड़कर चली जाएगी तो वह कुछ गलत करने की हिम्मत नहीं करेंगे, इज्जत करेंगे। वही रीमा ने कहा कि इस कैंपन को अभी और आगे बढ़ाना चाहिए और समाज में फैले अपवाद को मिटाना चाहिए।