Wednesday, 13 March 2019

देखे, पाकिस्तान की हरकतों पर बोले विघुत जामवाल- हमारी सरकार भी जानवरों के साथ……

हिंदी सिनेमा में अपने एक्शन सीन्स से जबरदस्त नाम कर चुके एक्टर विघुत इन दिनों अपनी फिल्म जंगल को लेकर सुर्खियों में है।विघुत को एक्शन तो विरासत मे मिली उपलब्धि है जिस तरह अभिमन्यु ने जैसे गर्भ में चक्रव्यूह तोड़ने के गुर सीखे उसी तरह मार्शल आर्ट्स  विद्युत जामवाल के डीएनए में है।जी हां हाल ही में अपनी फिल्म को लेकर इंटरव्यू में पहुंचे विघुत ने अपनी फिल्म को लेकर कई खुलासे किये जी हां

फिल्म के ट्रेलर में जैसे दिखाया गया कि ये फिल्म हिंदूस्तान में शूट नहीं की गई वही फिल्म में विघुत जंगली जानवरों के पीछे भागते दौड़ते नजर आ रहे है इस सवाल पर विघुत ने कहा-हमारी टीम पहले देश के जंगलों में घूमी उसके बाद हम थाईलैंड गए। जानवर वहां के काफी ट्रेंड हैं। लोगों के घरों में ही 10-10 हाथी हैं। राष्ट्रीय पशु होने के चलते वहां की सरकार उनके रखरखाव में मदद करती है। हमारी सरकार भी जानवरों के साथ शूटिंग करने में अब दिलचस्पी नहीं लेती। वहां के हाथी काफी समझदार है। शूटिंग के दौरान जब मैं पांच-छह हाथियों के बीच से दौड़ कर निकलता तो मुझे ये डर लगा रहता  कहीं किसी हाथी का दांत मुझे न लग जाए, लेकिन कभी कोई हादसा हुआ नहीं।

बता दें विघुत ने इंडस्ट्री में काम पाने के लिए सिर्फ अपने मार्शल आर्ट्स की सीडी साउथ में भेजी थी।ऐसे में मुंबई में काम पाने के लिए विघुत ने कहा-ये साल 2009 -10 की बात होगी जब मैं यहां फिल्मों के लिए ऑडिशन देने जाया करता था। वो दौर मेरी जिंदगी का सबसे कठिन दौर था। फोर्स फिल्म के लिए ऑडिशन के लिए पहुंचा तो अपने से भी ज्यादा मजबूत लोगों को वहां देखकर मैं पहले तो डरा। लेकिन मुझे अभिनय आता था। मुझे पूरा विश्वास था कि मुझे इस फिल्म में चांस मिलेगा और वही हुआ।

गौरतलब है आज विघुत की फिटनेस और उनकी बॉडी की दुनिया दीवानी है इंटरव्यू में अपनी फिटनेस का खुलासा करते हुए विघुत ने कहा-बॉडी बिल्डिंग हो या फिटनेस या फिर कमायाबी की कोई दूसरी डगर। लगातार मेहनत और नियमित मेहनत से ही ये हासिल हो सकता है। मेरा हर दिन का एक रुटीन है। नियमित भोजन लेता हूं और ज्यादा से ज्यादा वर्कआउट करता हूं। और, इसके लिए कैसे भी करके समय जरूर निकालता हूं।

इसी के साथ विघुत ने पाकिस्तान की हाल ही में अटैक की हरकत पर भी गुस्सा दिखाया इस सवाल पर विघुत ने कहा-सेना के अफसर का बेटा होने की वजह से मुझे कभी किसी भी चीज से डर नहीं लगा। मैं अपने देश के बारे में सब जानता हूं। मैंने शोहरत देखी है, अमीरों संग समय बिताता हूं। मेरे दादा, पिता,चाचा सब भारतीय सेना में रहे हैं। पाकिस्तान की हरकतों को लेकर मुझे बड़ा गुस्सा है लेकिन कुछ कर नहीं सकता हूं। हां, देश को कभी जरूरत पड़ी और बुलावा आया तो मैं सब कुछ छोड़ सरहद पर चला जाऊंगा।