Tuesday, 12 March 2019

देखे, बर्थडे स्पेशल- संघर्ष कर गायकी के पायदान पर श्रेया ने ऐसे बनाई दमदार पहचान, एक ही गाने से बनाई सबके दिलों में जगह..

Bhopal: Bollywood playback singer Shreya Ghoshal performs during 62nd foundation day celebration programme of Madhya Pradesh at Lal Parade ground in Bhopal on Wednesday. PTI Photo (PTI11_2_2017_000022A)

बॉलीवुड की मशहूर सिंगर श्रेया घोषाल को आज कौन नहीं जानता है।बता दें मशहूर पार्श्व गायिका श्रेया घोषाल का आज जन्मदिन है। जिसके मुताबिक आज श्रेया 35 साल की हो जाएगी।श्रेया का जन्म 12 मार्च 1984 को पश्चिम बंगाल के ब्रह्मपुर (मुर्शीदाबाद) में हुआ था।महज 4 साल की उम्र से  ही श्रेया ने सिंगिग की दुनिया में कदम रखा था।और आज श्रेया जिस मुकाम पर है वो काफी सराहनीय है।खैर ये श्रेया के संघर्ष की कहानी ही है जो उन्हें यहां तक ला पाया है।

बता दें श्रेया को सिंगिग की ये ताकत अपनी मां से मिली थी आज भी  फिल्मफेयर अवॉर्ड विजेता श्रेया के नाम पर अमेरिका के ‘ओहियो’ राज्य में 26 जून का दिन ‘श्रेया घोषाल डे’ के नाम से मनाया जाता है।जो कि वाकई में एक मिसाल कायम करता है।बात यदि श्रेया के जीवन की करें तो उनका पालन पोषण राजस्थान के रावतभाटा में हुआ था।दरअसल श्रेया के पिता भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र में नाभिकीय ऊर्जा संयंत्र इंजीनियर के रूप में काम करते हैं, जबकि मां साहित्य की स्नातकोत्तर हैं जो कि अपने घर परिवार संभालती है।

श्रेया ने अपनी मां से ही संगीत के सभी गुर सीखे है।एक समय श्रेया ने मशहूर सिंगर सोनू निगम ने कार्यक्रम की मेजबानी की थी जबकि कल्याणजी प्रतियोगिता के निर्णायक थे। इसके बाद गायक-संगीतकार कल्याणजी के कहने पर उनके माता-पिता को मुंबई लाने के लिए मनाया। वही महज 18 साल की उम्र से श्रेया का प्रोफेशनली सिंगिग करियर शुरु होने लगा।इसके बाद श्रेया क़ॉम्पिटिशन में अपनी आवाज का जादू चलाती रही।

वही एक समय उन्होंने सा रे गा मा में दूसरी बार भाग लिया। इस बार संजय लीला भंसाली को उनकी आवाज दीवाना बना चली गई।वही इस मौका का फायदा उठाते हुए भंसाली ने साल 2000 में अपनी फिल्म ‘देवदास’ में गाना गाने का प्रस्ताव रख दिया।इसके बाद श्रेया ने इस फिल्म में इस्माइल दरबार के संगीत निर्देशन में पांच गाने गाए। अब क्योंकि जितनी हिट ये फिल्म हुई उतनी ही हिट इसे श्रेया की आवाज ने कर दिया।

इस फिल्म के बाद श्रेया का नाम बॉलीवुड में अलका याज्ञिक, सुनिधि चौहान, साधना सरगम और कविता कृष्णमूर्ति जैसे टॉप के सिंगर्स की लिस्ट में शुमार हो गया।इस फिल्म के बाद श्रेया को  देवदास के बैरी पिया गीत के लिए उस साल का सर्वश्रेष्ठ गायिका का फिल्मफेयर पुरस्कार दिया गया।श्रेया ने ना सिर्फ  हिंदी बल्कि तमिल, तेलुगु, मलयालम, बंगाली, कन्नड, गुजराती, मेइती, मराठी और भोजपुरी समेत विभिन्न क्षेत्रीय भाषाओं में गाने रिकॉर्ड किए हैं।

अपनी इस दमदार आवाज का श्रेया ने बहुत कम समय में लोगों को दीवाना बना दिया है।इसी के चलते श्रेया ने तमाम राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार जीते हैं।आज भी श्रेया का नाम इंडस्ट्री के टॉप सिंगर्स में से एक है जो कि हमेशा कायम रहने वाला है।