Sunday, 10 March 2019

देखे, बॉलीवुड दुनिया को लेकर जोया अख्तर ने किया पर्दाफाश..

Indian Bollywood director of Hindi film “Zindagi Na Milegi Dobara” Zoya Akhtar attends a promotional event for the release of the new Hindi film,in Ahmedabad on July 8, 2011. The film’s cast along with the producers are currently on a Mumbai to Delhi promotional tour for the new movie. AFP PHOTO / Sam PANTHAKY (Photo credit should read SAM PANTHAKY/AFP/Getty Images)

बॉलीवुड में अलग ही विषय पर फिल्में बनाने वाली फिल्ममेकर और डायरेक्टर जोया अख्तर इन दिनों अपनी हाल ही में रिलीज फिल्म को लेकर चर्चा का विषय बनी हुई है। उनकी पिछली फिल्म गली बॉय थी। उनकी इस फिल्म ने बॉक्स आफिस पर शानदार कमाई की है। इसमें रणवीर सिंह और आलिया भट्ट मुख्य किरदार में नजर आए थे। हाल ही में फिल्ममेकर जोया अख्तर ने बॉलीवुड फिल्मों में सेक्स व महिलाओं के शारीरिक शोषण के चित्रण को लेकर बात की। उन्होंने कहा कि, हिन्दी सिनेमा में सेक्स के चित्रण में दिक्कतें रही हैं जहां आपसी सहमति से बने यौन संबंध की बजाए ज्यादातर ध्यान शारीरिक शोषण, बलात्कार एवं उत्पीड़न पर दिया जाता है।

जोया अख्तर के अनुसार, जब छोटी उम्र में लोग इस तरह का कॉन्टेंट देखते हैं तो इसका उन पर असर बाद में दिखाई देता है। उन्होंने ‘विमिन शेपिंग द नैरेटिव इन मीडिया ऐंड एंटरटेनमेंट’ विषय पर रखे गए एक सत्र के दौरान कहा कि, ‘मैं जब बड़ी हो रही थी तब यह महसूस किया कि मैंने हिन्दी फिल्मों में बस यौन शोषण देखा है। यह बहुत अजीब था क्योंकि हमे फिल्मों में बलात्कार के दृश्य, शोषण एवं उत्पीड़न देखने दिया जाता था लेकिन हमें सहमति से बने संबंध से जुड़े सीन्स देखने नहीं दिए जाते थे।’

जोया ने आगे कहा कि, ‘इसका हमारी मानसिकता पर असर होना लाजमी है क्योंकि उन्होंने पर्दे पर सहज स्पर्श और किसिंग करते नहीं देखा होता। आप लोगों को प्यार करते हुए और वह अपने साथ कैसा बर्ताव चाहते हैं, यह पर्दे पर नहीं देख पाते।’

फिल्ममेकर ने आगे कहा कि, ‘आप पर्दे पर दिखा रहे हैं कि महिलाएं तो हमेशा न ही कहेंगी इसलिए आप बस उन पर टूट पड़ें। जब आप बच्चे होते हैं, आप इस पर ध्यान नहीं देते हैं लेकिन बड़े होने पर आपको महसूस होता है कि यह अजीब है और इसे बदलना चाहिए।’

घर बैठे फ्री पैसे कमाए क्लिक करे- यहाँ जाये