Monday, 11 March 2019

देखे, मीटू मूवमेंट से लेकर लव और अरेंज मैरिज के लिए ये सोचती है कृति सेनोन, दी अपनी राय..

बॉलीवुड अभिनेत्री कृति इन दिनों अपनी फिल्म लुका छिपी को लेकर बिजी है फिल्म में कृति के साथ कार्तिक आर्यन भी मुख्य भूमिका में है।फिल्म रिलीज हो चुकी है वही फिल्म को दर्शको और क्रिटिक्स से काफी सराहना मिल रही है।ये फिल्म लिव इन रिलेशन पर आधारित है आजकल लड़का लड़की की शादी में लव मैरिज और अरेंज मैरिज पर काफी सवाल उठाए जाते है।ऐसे में कपल्स की शादी को लेकर कई खबरें आती रहती है हम बात कर रहे है इस मामले में कृति सेनोन का क्या कहना है फिल्म में मुख्य भूमिका निभा रही कृति ने अरेंज मैरिज पर कहा कि-

आज लड़कियां भी चाहती हैं कि वे डिसीजन लें। वे खुद श्योर करना चाहती हैं कि वह जिससे शादी कर रही हैं, वह कैसा है। मैंने अपने घर पर बोल दिया है कि मैं अरेंज मैरिज तो नहीं करने वाली हूं क्योंकि मुझे समझ नहीं आता है कि कोई कैसे किसी अंजान आदमी के साथ अपनी पूरी जिंदगी बिता सकता है। लेकिन जब भी मैं शादी करूंगी, तो यह सुनिश्चित करूंगी कि यही वह शख्स है जिसके साथ मैं अपनी पूरी जिंदगी बिताना चाहती हूं। वही क्योंकि आजकल यदि लड़किया अपनी पसंद के लड़के से शादी करना चाहे तो उसका परिवार उसकी खुशी के आगे दुनिया क्या कहेंगी ये सोचते है इस बात पर कृति ने अपनी राय रखते हुए कहा कि –

आपकी जिंदगी की गारंटी कोई पड़ोसी या रिश्तेदार तो नहीं ले सकता न। इस मामले में आपको अपने दिल की आवाज ही सुननी चाहिए। हां, हम लोग कभी-कभी प्यार में सोचना भूल जाते हैं कि हम सही डिसीजन ले रहे हैं या नहीं। क्योंकि शादी जैसा फैसला आपकी पूरी जिंदगी के लिए है, तो वह सोच समझकर और जांच-परखकर होना चाहिए। लेकिन प्यार में होना कोई बुरी बात नहीं है। सबसे पहले तो अपनी फैमिली को यह समझाने की कोशिश करनी चाहिए कि अगर आगे जाकर आपकी लाइफ खराब होती है, तो आप उन्हें नहीं दोष देना चाहते हैं। आपके पैरंट्स भी इस चीज की गारंटी नहीं ले सकते हैं कि अरेंज मैरिज होगी, तो उसमें आप खुश ही रहोगे। उसमें भी कई तलाक होते हैं। उसमें भी बाद में कई बार लड़का सही नहीं निकलता। तो यह जिंदगी का सबसे महत्वपूर्ण फैसला है, उसमें ऐसा कोई रूल-रेगुलेशन नहीं होना चाहिए। हां मगर आपकी खुशी सबसे ज्यादा जरूरी है और उसको प्राथमिकता पर रखना जरूरी है। 

गौरतलब है पिछले साल मीटू मूवमेंट की लहर चली थी जिसमें कई अभिनेत्रियों ने स्टार्स पर उपर इल्जाम लगाए थे इस दौरान कृति ने भी मीटू पर अपना बयान दिया कृति कहती है हमारी संस्कृति में भी कई चीजें हैं जो अंतर करती हैं, जैसे कि लड़की पांव नहीं छूती हैं, जबकि लड़का पांव छूता है। आखिर क्यों? पांव छूना सम्मान दिखाता है, तो लड़की क्यों नहीं छूती और फिर वही लड़की ससुराल में जाकर पांव छूती है। तो यह हमारे कल्चर की कुछ चीजें हैं जो मुझे समझ नहीं आती हैं। मगर मीटू मूवमेंट ने एक जो चीज की है, वह यह कि वर्कप्लेसेज में एक बदलाव लाई है। उस तरह के लोग जो यौन उत्पीड़न करने की मंशा रखते हैं, उनमें एक डर आ गया है और वह अब कोई भी गलत कदम उठाने से पहले 100 बार कोई सोचेंगे कि अब यह लड़की बोल भी सकती है। मुझे लगता है कि यह डर जरूरी था और यह लोगों में आ गया है। इसी के साथ कृति ने कहा कि वो जब भी शादी करेंगी तो लव मैरिज ही करना चाहेगी फिलहाल तो उन्हें अपने प्यार की जरुरत है।