Saturday, 16 February 2019

देखें ,माउथवाश का इस्तेमाल बढ़ा सकता है बीमारी का खतरा!..

देखें ,माउथवाश का इस्तेमाल बढ़ा सकता है बीमारी का खतरा!..

आज एक बार फिर मै जीवन से जुड़े कुछ जरुरी तथ्यों के साथ ये नयी पोस्ट लेकर आया हूँ, इस पोस्ट को आखिरी तक पढ़ते रहे ..

मुंह की दुर्गन्ध से हर कोई परेशान रहता है और इसे दूर करने के लिए आपको कई तरह के उपाय करने पड़ते हैं. कहीं आप कुछ खाते हैं तो कहीं किसी केमिकल युक्त लिक्विड का उपयोग करते हैं. माउथवॉश का इस्तेमाल भी कई लोग करते है. आपको बता दें, माउथवॉश में एंटी-बैक्टीरियल तत्व मौजूद होते हैं जो मुंह में माइक्रोब्स के बनने पर असर डालते हैं, जिनसे मुंह में नाइट्रिक ऑक्साइड बनने में कमी आ जाती हैं और इससे शरीर का मेटाबोलिज्म बिगड़ जाता है जो डायबिटीज जैसी गंभीर बीमारी के खतरे को काफी हद तक बढ़ा देता है. अगर भी इसका उपयोग करते हैं तो आपको बता देते हैं कण बातों का खतरा हो सकता है.
डायबिटीज का खतरा
* एक रिपोर्ट में यह दावा किया गया है कि रोजाना दिन में कम से कम 2 बार माउथवॉश का इस्तेमाल करने वाले लोगों में दूसरे लोगों के मुकाबले डायबिटीज का खतरा 55 फीसदी तक बढ़ जाता है.
घर बैठे फ्री पैसे कमाने के लिए क्लिक करे यहाँ जाये
* माउथवॉश के इस्तेमाल से सेहत को फायदे कम और नुकसान ज्यादा होते हैं. इस रिसर्च में लगभग 1,206 मोटापे से ग्रस्त लोगों को शामिल किया गया है, जिनकी उम्र 40 साल से 65 साल के बीच है और जिनको किसी प्रकार की डायबिटीज या दिल से जुड़ी बीमारी नहीं है.
* इन लोगों में करीबन 43 फीसदी लोग दिन में एक बार माउथवॉश का इस्तेमाल करते हैं, जबकि 22 फीसदी लोग दिन में 2 बार माउथवॉस का उपयोग करते पाए गए. इन सभी लोगों में ब्लड शुगर का खतरा बहुत ज्यादा देखा गया है.
घर बैठे फ्री पैसे कमाए क्लिक करे- यहाँ जाये
पोस्ट को अधिक से अधिक लाइक एवं शेयर करें.
सपना चौधरी ने करवाया ग्लैमरस फोटोशूट, किलर अंदाज देख थम जाएंगी आपकी सांसे

सपना चौधरी ने करवाया ग्लैमरस फोटोशूट, किलर अंदाज देख थम जाएंगी आपकी सांसे

sapna choudhary glamorous photoshoot
मुंबई: हरियाणवी डांसर और सिंगर सपना चौधरी किसी पहचान की मोहताज नहीं है। उनकी पॉपुलेरिटी दिन-ब-दिन बढ़ती जा रही है। हाल ही में उन्होंने फोटोशूट करवाया है जिसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही हैं। 
PunjabKesari, सपना चौधरी इमेज, सपना चौधरी फोटो, सपना चौधरी पिक्चर
इन तस्वीरों में सपना ब्‍लू कलर के शिमरी गाउन में बेहद ग्लैमरस अंदाज में नजर आ रही हैं। उनका लुक देख आपकी सांसे थम जाएंगी।
PunjabKesari, सपना चौधरी इमेज, सपना चौधरी फोटो, सपना चौधरी पिक्चर
उन्‍होंने अपने लंबे बालों को खोल रखा है जो उनके लुक को चार-चांद लगा रहे हैं। सपना की इन तस्‍वीरों को देख आपकी सांसे थम जाएंगी। 
घर बैठे फ्री पैसे कमाने के लिए क्लिक करे यहाँ जाये
PunjabKesari, सपना चौधरी इमेज, सपना चौधरी फोटो, सपना चौधरी पिक्चर
बता दें कि सपना अपने टैलेंट और खूबसूरती के बलबूते पर फैंस के दिलों पर राज कर रही हैं। सपना पहले से कहीं ज्‍यादा खूबसूरत हो चुकी हैं।
PunjabKesari, सपना चौधरी इमेज, सपना चौधरी फोटो, सपना चौधरी पिक्चर
आए दिन उनकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल होती रहती हैं।

घर बैठे फ्री पैसे कमाए क्लिक करे- यहाँ जाये
पोस्ट को अधिक से अधिक लाइक एवं शेयर करें.

Thursday, 7 February 2019

उच्चतम न्यायालय ने कोलकाता के पुलिस आयुक्त की गिरफ्तारी पर लगाई रोक

उच्चतम न्यायालय ने कोलकाता के पुलिस आयुक्त की गिरफ्तारी पर लगाई रोक

नई दिल्ली 5 फरवरी।उच्चतम न्यायालय ने आज कोलकाता के पुलिस उम्रक्त की गिरफ्तारी पर रोक लगाते हुए उन्हे सीबीआई के समक्ष पूछताछ के लिए मेघालय की राजधानी शिलांग में पेश होने का निर्देश दिया है।

मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई खी अध्यक्षता वाली पीठ ने आज सीबीआई और पश्चिम बंगाल पुलिस के बीच हुए विवाद पर सुनवाई करते हुए यह आदेश दिया।अदालत ने मामले की अगली सुनवाई 2 फरवरी को तय की है।

सीबीआई की ओर से पेश अटॉर्नी जनरल वेणुगोपाल ने अदालत में कहा कि पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा गठित एसआईटी का नेतृत्व कोलकाता के पुलिस उम्रक्त राजीव कुमार कर रहे थे। इसने सबूतों के साथ छेड़छाड़ की और मामले की सही तरीके से जांच नहीं की। उन्होनें कहा कि बंगाल में संवैधानिक संस्थानों की हालत खराब है।उन्होने कहा कि जांच भटकाने के लिए एसआईटी ने सीबीआई को गलत कॉल्स डेटा मुहैया कराया था।

पश्चिम बंगाल सरकार की तरफ से पेश वरिष्ठ वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि सीबीआई कोलकाता पुलिस उम्रक्त को परेशान करना चाहती है। उन्होंने कहा कि सीबीआई अफसरों को परेशान कर रही है। उन्होनें आरोप लगाया कि सीबीआई ने अपना नंबर बढ़ाने के लिए यह कदम उठाया है।उन्होंने कहा कि इतनी जल्दी क्या है? पांच साल तक कोई एफआईआर नहीं हुई, राजीव कुमार के खिलाफ सबूत नष्ट करने का मामला नहीं दर्ज किया गया।

अदालत ने पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव, पुलिस महानिदेशक, कोलकाता पुलिस उम्रक्त को सीबीआई द्वारा उनके खिलाफ दायर अवमानना याचिकाओं पर जवाब दायर करने को कहा  है।



घर बैठे फ्री पैसे कमाने के लिए क्लिक करे यहाँ जाये

 

 

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे - अभी वोट करें

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

टि्वटर पर मायावती ने तोड़े बड़े-बड़े नेताओ के रिकॉर्ड, तेजस्वी बोले- आपने मेरी बात मानी

टि्वटर पर मायावती ने तोड़े बड़े-बड़े नेताओ के रिकॉर्ड, तेजस्वी बोले- आपने मेरी बात मानी

आगामी लोक सभा चुनाव के पहले सियासी माहौल गरमा गया है. सभी राजनीतिक पार्टियों ने अपनी कमर कस ली है. हाल में ही सपा-बासप गठबंधन के बाद यूपी में भाजपा के लिए एक बड़ी परेशानियो का दौर शुरू हो गया है. इस बीच एक बड़ी खबर ये भी आ रही है बासपा सुप्रीमो मायावती लोकसभा चुनाव को लेकर एक्टिव हो गई है। इसी सिलसिले में बसपा सुप्रीमो पहली बार सोशल मीडिया पर आ गई हैं। बीएसपी प्रमुख मायावती ने ट्विटर पर अपना एकाउंट बना लिया है।@SushriMayawati नाम से ये एकाउंट बना है जिसे लोग तेजी से फॉलो कर रहे हैं। 219 लोकसभा चुनाव से पहले मायावती ट्विटर पर आ गई हैं। हालांकि अभी तक ये ट्विटर हैंडल वैरीफाई नहीं था लेकिन फॉलोअर्स की संख्या बढ़ते ही ये एकाउंट अब वेराफाइड हो गया है

lucknow

मायावती ने खुद दी सूचना

मायावती ने ट्विटर पर आने की सूचना भी दी है। उनके ट्विटर हैंडल पर तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर बधाई भी दी है। साथ ही उन्होंने ट्विटर से जुड़ने के अनुरोध को स्वीकार करने को लेकर खुशी भी जतायी है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि ‘नमस्कार भाइयों और बहनों। आदर के साथ मैं ट्विटर परिवार में अपना परिचय दे रही हूं। इसकी शुरुआत करते हुए उद्घाटन कर रही हूं। मेरे आधिकारिक ट्विटर हैंडल @sushrimayawati पर मेरे सभी भावी विचार-विमर्श, टिप्पणियों और अपडेट होंगे। हार्दिक शुभकामनाओं सहित। धन्यवाद।’

Hello brothers and sisters. With due respect let me introduce myself to the Twitter family. This is my opening and inauguration. @sushrimayawati is my official Twitter handle for all my future interactions, comments and updates. With warm regards. Thank you.

Mayawati (@SushriMayawati) January 22, 219

तेजस्वी यादव ने जताई खुशी



घर बैठे फ्री पैसे कमाने के लिए क्लिक करे यहाँ जाये

सुश्री मायावती के ट्वीट करने के बाद तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर कहा है कि ‘अंतत: आपको यहां देख कर खुशी हुई।’ साथ ही उन्होंने कहा है कि ’13 जनवरी को लखनऊ में हुई हमारी बैठक के दौरान ट्विटर से जुड़ने के मेरे अनुरोध को आपने स्वीकार किया। नमस्कार।’

Finally glad to see you here. Happy that you acknowledged and respected my request of joining twitter during our meeting in Lucknow on 13th January. Warm Regards https://t.co/SzHlRkBPAB

Tejashwi Yadav (@tejashwi) February 5, 219

विपक्षी भी कर रहे फॉलो

@SushriMayawati के फॉलोअर्स लगातार बढ़ रहे हैं। इसमें कांग्रेस और बीजेपी के भी कई नेता शामिल हैं। यही नहीं जयंत चौधरी और तेजस्वी यादव भी उन्हें फॉलो कर रहे हैं। जिस तरह बहुत सारे वैरीफाइड अकाउंट वाले लोग, वरिष्ठ पत्रकार और नेता इस हैंडल को फॉलो कर रहे हैं उससे साफ है कि ये हैंडल मायावती का ही है। अभी तक इस हैंडल से 11 ट्वीट किए गए हैं जिनमें अधिकतर प्रेस विज्ञप्ति ही हैं। खबर लिखे जाने तक 7185 लोग इस अकाउंट को फॉलो कर रहे थे। जबकि एक फॉलोइंग है। अभी तक मायावती प्रेस कॉन्फ्रेस और विज्ञप्ति के जरिए ही संवाद करती रहीं। इसके अलावा वो लोगों के साथ सीधा संवाद रैलियों और जनसभाओं के माध्यम से करती रहीं। अब वेये ट्वीटर के माध्यम से भी सक्रीय रहेंगी।

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे - अभी वोट करें

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

बसपा सुप्रीमा मायावती ने सोशल मीडिया की दुनिया में रखा कदम

बसपा सुप्रीमा मायावती ने सोशल मीडिया की दुनिया में रखा कदम

लखनऊ। आमतौर पर मीडिया और सोशल मीडिया से दूर रहने वाली बसपा सुप्रीमो ने भी अब सोशल मीडिया की दुनिया में अपना कदम रख दिया है। ऐसा क्यों हुआ फिलहाल इस बारे में कोई जानकारी नहीं है। जानकारों का कहना है कि लोकसभा चुनाव में लोग तक पहुंचने के लिए सोशल मीडिया एक अहम और प्रभावी प्लेटफार्म है।

बसपा प्रमुख मायावती ने सोशल मीडिया से दूरी खत्म करते हुए ट्विटर पर अपन आधिकारिक अकाउंट बना लिया है। बसपा की ओर से बुधवार को जारी बयान में यह जानकारी दी गयी है। पार्टी ने इस आशय की अधिकारिक घोषणा करते हुए बताया गया कि मायावती ने पहली बार ट्विटर को संवाद का माध्यम बनाया है।

इसके जरिए वह विभिन्न मुद्दों पर अपनी राय साझा करेंगी। उनका ट्विटर हैंडल @ShushriMayawati है। उललेखनीय है कि मायावती का यह अकाउंट 22 जनवरी को शुरू हुआ था। ट्विटर द्वारा इसे वेरीफाई किये जाने बाद पार्टी ने इसकी पुष्टि कर दी है। अब तक उन्होंने दर्जन भर ट्वीट भी किये हैं। वह सिर्फ ट्विटर सपोर्ट को फॉलो कर रही हैं जबकि उनके फॉलोअर की संख्या 871 हो गई है।



घर बैठे फ्री पैसे कमाने के लिए क्लिक करे यहाँ जाये

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे - अभी वोट करें

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

13 लाख टन कचरे के ढेर को 300 करोड़ रुपए में बदल दिया इस IAS ऑफिसर ने, जाने कैसे?

13 लाख टन कचरे के ढेर को 300 करोड़ रुपए में बदल दिया इस IAS ऑफिसर ने, जाने कैसे?

दोस्तों कुछ सालो पहले देश के पीएम नरेंद्र मोदी ने एक बड़ी ही अच्छी मुहीम शुरू की थी जिसका नाम हैं ‘स्वच्छ भारत अभियान’. इस मुहीम के चलते पुरे देश में लोग अपने आसपास की स्वच्छता को लेकर जागरूक हुए थे. इस काम में आम लोगो से लेकर बड़े बड़े सेलिब्रिटीज तक सभी ने रूचि दिखाई थी. इसके बाद हर शहर को क्लीन बनाने और इस काम के लिए प्रोत्साहित करने के लिए सरकार ने एक बड़ी ही दिलचस्प प्रतियोगिता भी शुरू कर दी. इसमें होता ये हैं कि हर साल स्वच्छ भारत अभियान के तहत देश के सभी शहरों को उनकी स्वच्छता के अनुसार रेंकिंग दी जाती हैं. ऐसे में हर साल शहर वाले और वहां का नगर निगम डिपार्टमेंट इस रेंक में ऊपर आने के लिए जी जान लगाकर अपने शहर को स्वच्छ बनाने कोशिश करता हैं.

इसी कड़ी में मध्यप्रदेश का इंदौर शहर लगातार पिछले दो वर्षों से नंबर 1 आ रहा हैं. इंदौर वासियों ने अपने शहर को स्वच्छ बनाने के लिए और ये नंबर 1 की रैंक हासिल करने के लिए खूब पसीना बहाया हैं. इंदौर शहर के इस स्वच्छता अभियान की मुख्य डोर IAS ऑफिसर आशीष सिंह के हाथो में थी. आशीष इंदौर मुंसीपल कमिश्नर भी हैं. वे पीएम मोदी के स्वच्छ भारत अभियान से काफी प्रेरित हुए और उन्होंने हर हाल में अपने शहर इंदौर को साफ़ सुथरा बनाने की ठान ली.

पिछले कुछ सालो से इंदौर शहर के हर गली मोहल्ले का कचरा वहां से साफ़ करवा कर एक जगह एकत्रित किया जा रहा था. ऐसे में ये कचरा बढ़ते बढ़ते 13 लाख टन के ढेर में परिवर्तित हो गया. इस कचरे के ढेर ने शहर की एक बहुत बड़ी जमीन रोक रखी थी और ये सफाई की दृष्टि से भी अच्छा नहीं दिखाई दे रहा था. ऐसे में आशीष ने इस कचरे के ढेर को साफ़ करने का मन बना लिया. लेकिन ये उनके लिए इतना आसान भी नहीं था. यदि आशीष बाहर से कोई एक्स्ट्रा मदद बुलाते तो इस काम के लिए उन्हें 65 करोड़ रुपए तक खर्च करने पड़ जाते. लेकिन इतना अधिक बजट ना होने के कारण आशीष ने लोकर सोर्स से ही मदद ली और थोड़ी जुगाड़ लगाते हुए इस कचरे के ढेर को साफ़ करवा दिया.

13 लाख टन के इस कचरे को साफ़ करवाने में उन्हें और उनकी टीम को पुरे 6 महीने लग गए. इन 6 महीनो में उनकी टीम ने दिन रात काम किया. इसके लिए पहले उन्होंने गिले और सूखे कचरे को अलग करने का काम किया. इसके लिए मशीन की सहायता ली गई. कचरे में जितना भी लोहा, कागज़ जैसा सामान था उसे जंक डीलर (लोहा भंगार वाले) को बेच दिया गया. कचरे के प्लास्टिक को इधन में परिवर्तित कर लिया गया. कचरे में निकले फ़ालतू के रबड़ जैसे पोस्टार्थो को पिघला के बुलिडिंग निर्माण का मटेरियल बनाया गया. वहीँ पोलीथिन जैसे कचरों का इस्तेमाल सीमेंट प्लांट्स और रोड निर्माण में किया गया. इस तरह धीरे धीरे आशीष और उनकी टीम ने सारे कचरे को ठिकाने लगा दिया.

इस कचरे को हटाने का सबसे बड़ा फायदा ये भी हुआ कि उन्हें एक बहुत बड़ी 1 एकड़ की खाली जमीन मिल गई जो अब तक इस कचरे के ढेर ने रोक रखी थी. अब इस नई जमीन का उपयोग सिटी फारेस्ट बनाने के लिए किया जाएगा. साथ ही इसमें गोल्फ कोर्स और अन्य सुविधाएं भी ऐड की जाएगी.



घर बैठे फ्री पैसे कमाने के लिए क्लिक करे यहाँ जाये

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि इस कचरे के ढेर को हटा के जो 1 एकड़ की जमीन मिली हैं उसकी कीमत 3 करोड़ से भी ज्यादा हैं. इसके साथ ही कचरे को रिसाइकल करने या बेचने से जो मुनाफा हुआ वो अलग. इस तरह इस IAS ऑफिसर ने सरकार को कचरे के ढेर के बदले कई करोड़ का फायदा करवा दिया और शहर भी साफ़ सुथरा हो गया.

इस IAS ऑफिसर की सोच और जजबे को हमारा सलाम.

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे - अभी वोट करें

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

लखनऊ में जल्द रोड शो कर सकती हैं प्रियंका गांधी वाड्रा

लखनऊ में जल्द रोड शो कर सकती हैं प्रियंका गांधी वाड्रा

लखनऊ। सक्रिय राजनीति में आने के बाद कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी वाड्रा अब उत्तर प्रदेश में कांग्रेस को मजबूत करने की कवाद में जुट गयी हैं। वह उत्तर प्रदेश में अपनी पार्टी की चुनाव तैयारियों का आगाज लखनऊ में रोड शो के जरिये करेंगी। इस सिलसिले में उनके 11 फरवरी को लखनऊ पहुंचने की संभावना है।

इससे पहले प्रियंका 7 जनवरी को पहली बार पार्टी की किसी आधिकारिक बैठक में शामिल होंगी। यह बैठक कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने लोकसभा चुनाव की तैयारी के मद्देनजर पार्टी के वरिष्ठ पोस्टाधिकारियों के साथ बुलाई हुई है।
राहुल ने बैठक में सभी महासचिवों और प्रदेश प्रभारियों को भी उपस्थित रहने के लिए कहा है। राहुल ने शनिवार को भी कांग्रेस संसदीय दल के नेताओं और प्रदेश अध्यक्षों की बैठक बुलाई हुई है जिसमें लोकसभा चुनाव की तैयारियों की समीक्षा की जाएगी।

कांग्रेस अध्यक्ष ने मंगलवार को भी चुनाव को लेकर उत्तर प्रदेश के दोनों नवनियुक्त प्रभारियों प्रियंका गांधी और ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ बैठक की। बैठक में संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल भी मौजूद थे। हालांकि ये सभी बुधवार को पोस्टभार संभालेंगे। अब बृहस्पतिवार को होने वाली अगली बैठक में पार्टी की आगामी चुनावी रणनीति पर चर्चा होगी। इससे पहले प्रियंका गांधी ने उत्तर प्रदेश के कुछ वरिष्ठ नेताओं के साथ अनौपचारिक मुलाकात की।

उन्होंने पूर्वी उत्तर प्रदेश में पार्टी को मजबूत करने के संबंध में नेताओं से चर्चा की। प्रियंका को पूर्वी यूपी की 43 लोकसभा सीटों का प्रभारी बनाया गया है जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकसभा सीट वाराणसी और भाजपा के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की गोरखपुर लोकसभा सीट आती हैं।

कांग्रेस की नई महासचिव और पूर्वी यूपी की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा को अकबर रोड स्थित पार्टी मुख्यालय में कमरा आवंटित हो गया है। प्रियंका अपने भाई और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के कक्ष के बगल में उनके पुराने कमरे में ही बैठेंगी।



घर बैठे फ्री पैसे कमाने के लिए क्लिक करे यहाँ जाये

बतौर उपाध्यक्ष राहुल ने इसी कमरे से शुरुआत की थी और लंबे समय तक इसी में बैठते रहे थे। पार्टी महासचिव के तौर पर अपनी नियुक्ति के समय 23 जनवरी को प्रियंका विदेश में थीं जहां से वह सोमवार को ही वापस लौटी हैं। वापसी के बाद उन्होंने राहुल गांधी से मिलने के अलावा कई अन्य वरिष्ठ नेताओं से भी मुलाकात की थीं।

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे - अभी वोट करें

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

विकास के वादों की पोल खोलता क्षतिग्रस्त सड़क

विकास के वादों की पोल खोलता क्षतिग्रस्त सड़क

बस्ती।एक तरफ जहां बस्ती में लोक निर्माण विभाग के द्वारा हवा में 3 सड़कों को हवा में बना कर 5 करोड़ से ज्यादा की रकम का बन्दबाट कर दिया तो वही सांउघाट विकास खण्ड अन्तर्गत पकरी नासिर-धौरहरा गांव को जाने वाली गड्ढों मे तब्दील हो गयी है। गांव के समाजसेवी मुक्तेश्वर यादव ने जिलाधिकारी सहित अनेक उच्चाधिकारियों को पत्र प्रेषित कर सडक निर्माण की मांग की है।

बस्ती-गोरखपुर नेशनल हाईवे रोड से पकरी नासिर धौरहरा को जोडने वाली सडक का निर्माण किस विभाग द्वारा कराया गया है यह आज तक पता नही चल पाया है। जबकि एक तरफ सरकार और उनके विधायक, सांसद गडढा मुक्त सडकों को दावा करते हैं। वहीं ये सडकें उनके दावों की पोल खोल रही हैं। अभी भी सडक पर एक-एक फिट के गहरे गडढे हैं। आये दिन इस सडक पर गडढों के कारण स्कूली बच्चे व राहगीर चोटिल हो रहे हैं।

पकरी नासिर निवासी मुक्तेश्वर यादव ने बताया कि उस सडक के मरम्मत कराने हेतु पत्र जिलाधिकारी , सदर विधायक व मुख्यमंत्री के ट्वीटर पर पर भी प्रेषित किया गया है। समाजसेवी श्री यादव ने बताया कि पता करने पर ज्ञात हुआ कि उक्त सडक का निर्माण 25-26 मे पीडब्ल्यूडी बस्ती के निर्माण खण्ड द्वारा कराया गया था। मो खालिद खान, जर्नादन प्रसाद, अहमद हुंसेन, एजाज अहमद, रोजन अली, गलाब चैधरी सहित कई ग्रामीणों ने शीघ्र ही सडक निर्माण की मांग किया है।



घर बैठे फ्री पैसे कमाने के लिए क्लिक करे यहाँ जाये

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे - अभी वोट करें

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

2012 में तख्तापलट की खबरों पर खुलासे के बाद हमलावर हुई BJP, कांग्रेस से दागे 5 सवाल

2012 में तख्तापलट की खबरों पर खुलासे के बाद हमलावर हुई BJP, कांग्रेस से दागे 5 सवाल

बुधवार को अंग्रेजी के एक अखबार में सेना के तख्तापलट को लेकर हुए खुलासे के बाद शुरू हुआ विवाद अब थमने का नाम नहीं ले रहा। भाजपा ने यूपीए-2 के दौरान उड़ाई गई तख्तापलट की खबरों को लेकर कांग्रेस पर हमलावर रूख अख्तियार कर लिया है। वर्तमान की सत्ताधारी पार्टी ने तत्कालीन सत्ताधारी पार्टी पर गलत खबरें छपवाकर भारतीय सेना को बदनाम करने का आरोप लगाया है। पार्टी ने प्रेसवार्ता में आरोपों की झड़ी लगाते हुए मनमोहन सरकार के चार मंत्रियों को कठघरे में खड़ा कर दिया।

नई दिल्ली: साल 212 में यूपीए-2 के कार्यकाल के दौरान सैन्य तख्तापलट की खबरों को लेकर भाजपा ने एक रिपोर्ट का हवाला देकर कांग्रेस को निशाने पर लिया है। भाजपा ने कांग्रेस पर अपने कार्यकाल (UPA-2) के दौरान राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ खिलवाड़ करने और भारत की सेना के खिलाफ साजिश रचने का आरोप लगाया है। राजधानी दिल्ली में पार्टी मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान भाजपा प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा ने कहा कि 212 में सेना के खिलाफ तख्तापलट की गलत खबर छपवाकर उसे बदनाम किया गया।

दिल्ली में बीजेपी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि मनमोहन सरकार के चार मंत्री इस साजिश में शामिल थे। बीजेपी ने इस मामले में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से जवाब मांगा है। उन्होंने साथ ही संसदीय कमिटी से इस पूरे मामले की जांच की मांग की है।

बीजेपी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस पार्टी के कार्यकाल के दौरान देश में न केवल भ्रष्टाचार हुआ, बल्कि राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ खिलवाड़ भी किया गया। बीजेपी ने आरोप लगाया कि यूपीए-2 के शासनकाल में भारतीय सेना के खिलाफ साजिश रची गई थी। बता दें कि जनवरी 212 में एक न्यूजपेपर में सेना द्वारा कथित तख्तापलट की खबर प्रकाशित हुई थी। इस खबर के बाद देशभर में काफी बवाल मचा था।

दिल्ली में बीजेपी मुख्यालय में पार्टी प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि यूपीए के शासनकाल में कांग्रेस के सीनियर नेताओं ने भारतीय सेना के खिलाफ खबरें प्लांट करवाई थीं। नरसिम्हा ने कहा कि यूपीए-2 के कार्यकाल में मनमोहन सरकार के चार मंत्रियों ने देश की आर्मी के खिलाफ गलत खबरें छपवाने की साजिश रची थी। सैन्य तख्तापलट की झूठी खबर न्यूजपेपर में छपवाकर सेना का अपमान किया गया। यह देश से गद्दारी थी।

बता दें कि ‘द संडे गार्डियन’ की रिपोर्ट के अनुसार सेना की कथित तख्तापलट की खबरों पर तत्कालीन पीएम मनमोहन सिंह ने आईबी के अधिकारियों को बुलाकर इस खबर के बारे में जानकारी मांगी थी। आईबी के अधिकारियों ने तत्कालीन पीएम को बताया कि ऐसा कोई प्रयास नहीं किया जा रहा है। इस मामले में शामिल रहे एक अधिकारी ने संडे गार्डियन को बताया कि आईबी ने साफ किया कि तख्तापलट की कोई कोशिश नहीं हो रही है। कहीं भी कोई आर्मी चीफ बिना टॉप अधिकारियों के समर्थन के बिना तख्तापलट की नहीं सोच सकता है। नरसिम्हा ने कहा, ‘कांग्रेस ने तख्तापलट की साजिश की खबरें प्लांट करवाई। भारत की सेना को जलील करने का षडयंत्र रचा गया। आईबी ने मनमोहन सिंह को बताया कि यह कोरी कल्पना है।’

नरसिम्हा ने कहा कि वह रक्षा मामलों की संसदीय कमिटी के सदस्य भी हैं और उन्होंने इस मामले में कमिटी के अध्यक्ष कलराज मिश्रा से इसकी तुरंत बैठक बुलाने की मांग की है। उन्होंने कहा, ‘मैंने स्टैंडिंग कमिटी के अध्यक्ष से इसकी बैठक बुलाने की मांग की है। ताकि जांच की जा सके कि इस तरह की खबरों में कौन शामिल था, उसका मकसद क्या था। सेना के अधिकारियों को इस जांच में शामिल कर मकसद का पर्दाफाश करवाया जाए।’ 

पार्टी ने दागे पांच सवाल

क्या भारतीय सेना को बदनाम करने के लिए आईएसआई या पाकिस्तानी आर्मी ने तो ऐसा नहीं किया?

क्या किसी के कहने पर भारत की सेना को पाकिस्तान ने बदनाम तो नहीं किया?



घर बैठे फ्री पैसे कमाने के लिए क्लिक करे यहाँ जाये

तख्तापलट की गलत स्टोरी के पीछे का मकसद क्या था?

कहीं इस तरह की खबरों के पीछे गांधी परिवार खास तौर पर राहुल गांधी का हाथ तो नहीं था?

कौन इस तरह की अफवाह फैला रहा था, कौन-कौन मंत्री इसमें शामिल थे?

बता दें कि मार्च 21 से मई 212 तक जनरल वीके सिंह भारतीय सेना के चीफ थे। सिंह पर ही मनमोहन सिंह सरकार के खिलाफ तख्तापलट करने की कोशिश का आरोप लगा था।

घर बैठे फ्री में पैसे कमाने के लिए अभी देख - यहाँ कमाये

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

Sunday, 3 February 2019

अमेरिका में भारत के राजदूत ने आशा व्‍यक्‍त की है कि हिरासत में रखे गए विद्यार्थियों से मिलने की अनुमति कल तक मिल जाएगी

अमेरिका में भारत के राजदूत ने आशा व्‍यक्‍त की है कि हिरासत में रखे गए विद्यार्थियों से मिलने की अनुमति कल तक मिल जाएगी

India sent formal letter to US Embassy on issue of Indian students detained in US

अमेरिका में भारत के राजदूत हर्षवर्धन श्रृंगला ने आशा व्‍यक्‍त की है कि अधिकारियों को अमेरिका में हिरासत में रखे गए भारतीय विद्यार्थियों से मिलने की अनुमति कल तक मिल जाएगी। इन विद्यार्थियों को अमरीकी प्रशासन ने एक फर्जी विश्‍वविद्यालय में दाखिले के सिलसिले में हिरासत में लिया है। वाशिंगटन में एक समाचार एजेंसी से बातचीत में उन्‍होंने आश्‍वस्‍त किया कि भारत सरकार इन विद्यार्थियों के साथ है। भारतीय राजदूत ने कहा कि विदेश मंत्रालय मिशिगन के फार्मिंगटन विश्‍वविद्यालय में दाखिले के सिलसिले में इतनी बड़ी संख्‍या में भारतीय विद्यार्थियों पर आरोप लगाए जाने को लेकर चिंतित हैं। उन्‍होंने कहा कि विद्यार्थियों को कानूनी उपायों की जानकारी दी गई है और वे अपने लिए वकील की मांग भी कर सकते हैं। उन्‍होंने कहा कि अमरीका में भारत के सभी पांच वाणिज्‍य दूतावासों ने नोडल अधिकारी को मामले पर नजर रखने को कहा है। सरकार ने इस मुद्दे को सर्वोच्‍च प्राथमिकता देने का निर्देश दिया है।

भारतीय विद्यार्थियों को हिरासत में लिए जाने को लेकर कल सरकार ने नई दिल्‍ली में अमरीकी दूतावास के साथ आपत्ति दर्ज कराई थी।



घर बैठे फ्री पैसे कमाने के लिए क्लिक करे यहाँ जाये

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे - अभी वोट करें

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

सीमांचल एक्सप्रेस के 11 डिब्बों के पटरी से उतरने से छह मरे,36 घायल

सीमांचल एक्सप्रेस के 11 डिब्बों के पटरी से उतरने से छह मरे,36 घायल

वैशाली 3 फरवरी।बिहार के वैशाली जिले में सीमांचल एक्‍सप्रेस रेलगाड़ी के 11 डिब्‍बों के आज सुबह पटरी से उतर जाने से 6 लोगों की मौत हो गई और 36 घायल हो गए।घायलों में 3 की हालत नाजुक बनी हुई है।

यह गाड़ी बिहार में अररिया जिले के जोगबनी से दिल्‍ली के आनंद विहार स्‍टेशन के बीच चलती है। यह दुर्घटना सोनपुर डिवीजन के सहदेई बुजुर्ग स्‍टेशन के निकट हुई।राहत और बचाव कार्य जोरो पर चल रहा है। दुर्घटनास्‍थल से मलबों को हटाया जा रहा है। सीमांचल एक्‍सप्रेस के यात्रियों को गन्‍तव्‍य स्‍थान पर भेजने के लिए विशेष ट्रेन की व्‍यवस्‍था की गई है।

सोनपुर मंडल के बछवाड़ा, हाजीपुर रेल खंड पर ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया है। लंबी दूरी की ट्रेनों को वैकल्पिक मार्ग से चलाया जा रहा है। घायलों का इलाज हाजीपुर सदर अस्‍पताल में चल रहा है।

इस बीच रेलवे ने दुर्घटना की जांच के आदेश दे दिये है।रेल मंत्रालय ने प्रत्‍येक मृतकों के निकटतम आश्रित को पांच-पांच लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है।गंभीर रूप से घायल को एक लाख और मामूली रूप से घायल यात्रियों को पचास हजार रुपये दिये जाएंगे।घायलों के इलाज का पूरा खर्च भी रेल मंत्रालय वहन करेगा।



घर बैठे फ्री पैसे कमाने के लिए क्लिक करे यहाँ जाये

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी,कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने दुर्घटना में मारे गए लोगों के प्रति शोक व्‍यक्‍त किया है।बिहार के मुख्‍यमंत्री नितीश कुमार ने भी इस घटना पर दु:ख व्‍यक्‍त किया है। राज्‍य सरकार ने प्रत्‍येक मृतक के परिवार को चार लाख रूपये और घायलों को पचास हजार रूपये की सहायता राशि देने की घोषणा की है।

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे - अभी वोट करें

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

लटके चेहरे पर राहुल का मोदी को जवाब- 1 किसान को साढ़े 3 रुपये देकर 5 मिनट संसद में तालियां बजाईं

लटके चेहरे पर राहुल का मोदी को जवाब- 1 किसान को साढ़े 3 रुपये देकर 5 मिनट संसद में तालियां बजाईं

बिहार के पटना स्थित गांधी मैदान में आयोजित जन आंकाक्षा रैली में राहुल गांधी ने ऐतिहासिक घोषणा की है। राहुल ने कहा है कि केंद्र में उनकी सरकार आई तो हिंदुस्तान के हर एक गरीब व्यक्ति को मिनिमम आय की गारंटी दी जाएगी। हर किसी के बैंक अकाउंट में फिक्स अमाउंट डाला जाएगा। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी ने किसानों के साथ मजाक किया है और किसान के परिवार के एक सदस्य को साढ़े तीन रुपये देने की घोषणा की है लेकिन कांग्रेस ऐसा नहीं करेगी। कांग्रेस सरकार हर एक व्यक्ति की कम से कम आय की गारंटी लेगी।

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस की तैयारियां चरम पर है। 219 के लोकसभा चुनाव में एनडीए को सत्ता से बेदखल कर यूपीए सरकारबनाने को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी एक के बाद एक रैलियां कर रहे हैं। इसी दौर में राहुल गांधी मे 3 फरवरी को बिहार की राजधानी पटना में कांग्रेस के जन आकांक्षा रैली को संबोधित किया।

इस जन आकांक्षा रैली के जरिए कांग्रेस ने बिहार में अपनी मजबूत स्थिति दिखाने की कोशिश की और 3 साल बाद पटना के गांधी मैदान में यह रैली का आयोजन किया। रैली को संबोधित करने के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा।

राहुल गांधी ने 3 साल बाद पटना के गांधी मैदान में हुई कांग्रेस की रैली में देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर एक के बाद कई हमले किए। राहुल ने एक बार फिर से पीएम को चोर कहते हुए कहा कि हमारा चौकीदार चोर है। वो फ्रांस, यूएसए और इंग्लैंड जाते हैं और वहां जाकर हथियारों की खरीद में घोटाला करते हैं। राहुल ने कहा कि पीएम ने अनिल अंबानी को 3 हजार करोड़ रुपए दे दिए लेकिन उन्होंने किसान को एक दिन के सिर्फ 17 रुपए दिए हैं। मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि नोटबंदी दुनिया का सबसे बड़ा घोटाला है। राहुल गांधी ने बजट में की गई प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीए-किसान) योजना को लेकर मजाक उड़ाया और कहा कि मोदी जी किसानों को 17 रुपए प्रतिदिन दिए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसान के परिवार के व्यक्ति को 3.5 रुपए मोदी जी ने दिए हैं।

उन्होंने नोटबंदी को देश का सबसे बड़ा घोटला करार दिया और कहा कि अमीर दोस्तों का काला धन सफेद किया। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि हमने देश को भोजना और सूचना का अधिकार दिया। लोकसभा चुनाव का जिक्र करते हुए राहुल ने कहा, ‘हम गठबंधन की सरकार बनाने जा रहे हैं। सरकार बनी तो मिनिमम इनकम की गारंटी होगी।’राहुल ने कहा कि अगर कांग्रेस पार्टी सत्ता में आती है तो वो देश के गरीबों के खातों में डायरेक्ट मिनिमम बेसिक इनकम के तहत पैसा डालेगी। राहुल गांधी ने कहा कि बिहार के लोग नीतीश कुमार को हटाने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मोदी की तरह नीतीश कुमार भी वादे करने में माहिर है।

नोटबंदी को दुनिया का सबसे बड़ा घोटाला करार दिया। राहुल के साथ मंच पर उपस्थित मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ और कांग्रेस के सीनियर नेता कमलनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने देश के युवाओं के साथ धोखा किया है। उन्होंने कहा कि मेक इन इंडिया और डिजिटल इंडिया के नाम पर देश की जनता से झूठे वादे किए गए। इस दौरान कांग्रेस सहित महागठबंधन के कई नेताओं ने रैली को संबोधित किए और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और पीएम मोदी पर निशाना साधा। तेजस्वी यादव ने कहा कि इस बार सबको मिलकर भाजपा को हराना है। तेजस्वी नमे कहा कि मेरे पिता शेर हैं। वो भाजपा की गीदड़ भभकी से डरने वाले नहीं हैं।



घर बैठे फ्री पैसे कमाने के लिए क्लिक करे यहाँ जाये

Web Title : Rahul’s response to Modi’s face

घर बैठे फ्री में पैसे कमाने के लिए अभी देख - यहाँ कमाये

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

लखनऊ में बैठकर सीएम योगी ने पश्चिम बंगाल में की रैली

लखनऊ में बैठकर सीएम योगी ने पश्चिम बंगाल में की रैली

लखनऊ।
पश्चिम बंगाल में रैली स्थल के पास हेलीकॉप्टर उतारने की अनुमति न दिए जाने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ के पांच कालिदास मार्ग स्थित अपने आवास से पश्चिम बंगाल की जनसभा सम्बोधित की।

Yogi Adityanath Addressed A Rally In West Bengal By Phone :

सीएम योगी ने रैली के लिए अनुमति न दिए जाने पर पश्चिम बंगाल सरकार से गहरी नाराजगी जताई और कहा कि ममता जी को प्रशासन का इस्तेमाल राजनीति के लिए नहीं करना चाहिए। यह पूरी तरह अलोकतांत्रिक है। बंगाल का प्रशासन तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता की तरह काम कर रहा है। यह अस्वीकार्य है। आपको बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को रविवार को पश्चिम बंगाल में बलूरघाट व दक्षिणी दिनाजपुर में रैलियों को सम्बोधित करना था लेकिन सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए योगी के हेलीकॉप्टर को रैली स्थल के पास उतारने की अनुमति नहीं दी गई। जिस पर भाजपा ने कड़ी प्रतिक्रिया दी। पश्चिम बंगाल सरकार द्वारा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की रैली के लिए अनुमति न दिए जाने को भाजपा ने अलोकतांत्रिक बताते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से गहरी नाराजगी जताई है। भाजपा प्रवक्ता चन्द्रमोहन ने कहा कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सीएम योगी की लोकप्रियता से घबरा गई हैं। वह एक ओर तो महागठबंधन के अलग.अलग पार्टियों के नेताओं को बुलाती हैं। दूसरी तरफ योगी की रैली के लिए अनुमति नहीं देती हैं। आने वाले चुनाव में बंगाल की जनता ममता को सबक सिखाएगी। बंगाल में ममता की जमीन खिसक रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की लोकप्रियता का ग्राफ तेजी से बढ़ रहा है। ये बताता है कि आने वाले चुनाव में बंगाल में ममता का सूपड़ा साफ होगा। आपको बता दें कि आगामी लोकसभा चुनाव में प्रचार के लिए भाजपा ने पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की रैली के लिए अनुमति मांगी थी जिसे मना कर दिया गया।

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे - अभी वोट करें



घर बैठे फ्री पैसे कमाने के लिए क्लिक करे यहाँ जाये

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

लेह में केबीआर हवाईअड्डे के नए टर्मिनल भवन का शिलान्यास किया प्रधानमंत्री ने लद्दाख क्षेत्र के लिए कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन किया

लेह में केबीआर हवाईअड्डे के नए टर्मिनल भवन का शिलान्यास किया प्रधानमंत्री ने लद्दाख क्षेत्र के लिए कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन किया

PM Narendra Modi inaugurated and commissioned development projects of Rs. 12 thousand crore in Leh in Ladakh

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लेह, जम्मू एवं श्रीनगर की अपनी एक दिवसीय यात्रा के पहले चरण में आज लद्दाख पहुंचे। उन्होंने वहां विभिन्न विकास परियोजनाओं का उद्घाटन / शिलान्यास किया।

कंपकंपा देने वाली सर्दी में वहां उपस्थित भीड़ की सराहना करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा “जो लोग कठिन परिस्थितियों में रहते हैं, वे हर मुश्किल को चुनौती देते हैं। आपका स्नेह मुझे कड़ी मेहनत करते रहने की प्रेरणा देता है।”

उन्होंने लद्दाख विश्वविद्यालय का उद्घाटन किया और कहा, “युवा छात्र लद्दाख की आबादी के 4% भाग हैं। इस क्षेत्र में विश्वविद्यालय की लंबे समय से मांग रही है। लद्दाख विश्वविद्यालय के शुभारंभ के साथ, यह मांग पूरी हो जाएगी।” यह विश्वविद्यालय लेह, कारगिल, नुब्रा, ज़ांस्कर, द्रास और ख़ाल्सती के डिग्री महाविद्यालयों से निर्मित एक क्लस्टर विश्वविद्यालय होगा और छात्रों की सुविधा के लिए लेह और कारगिल में प्रशासनिक कार्यालय होंगे।

प्रधानमंत्री ने दातांग गाँव के पास दाह में 9 मेगावाट डीएएच पनबिजली परियोजना और 22 केवी श्रीनगर- अलस्टेंग - द्रास- कारगिल - लेह संचरण प्रणाली का उद्घाटन किया । इन परियोजनाओं का उद्घाटन करते हुए, प्रधानमंत्री ने कहा, “हमने विलंब की संस्कृति को पीछे छोड़ दिया है”। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि उनके द्वारा शिलान्यास की गई सभी परियोजनाओं का उनके द्वारा ही उद्घाटन किया जाए।

आज ही लद्दाख में पांच नए पर्यटक और ट्रैकिंग मार्ग भी खोले गए। प्रधानमंत्री ने कहा कि जैसे ही कोई शहर अच्छी तरह से संपर्क से जुड़ जाता है, आर्थिक रूप से भी जीवन आसान हो जाता है। उन्होंने कहा कि बिलासपुर-मनाली-लेह रेल लाइन पूरी हो जाने के बाद, दिल्ली से लेह की दूरी कम हो जाएगी।

प्रधानमंत्री ने लेह में एक पट्टिका का अनावरण कर कुशोक बकुला रिम्पोछे (केबीआर) हवाई अड्डे के नए टर्मिनल भवन का शिलान्यास किया। नया टर्मिनल सभी आधुनिक सुविधाओं के साथ निर्बाध यात्री आवाजाही की सुविधा भी प्रदान करेगा।



घर बैठे फ्री पैसे कमाने के लिए क्लिक करे यहाँ जाये

उन्होंने यह भी कहा कि इन परियोजनाओं का परिणाम बिजली की बेहतर उपलब्धता, बेहतर कनेक्टिविटी के रूप में सामने आयेगा और इस प्रकार फिर से इस क्षेत्र में पर्यटकों की उपस्थिति बढ़ जायेगी। यह कई गांवों के लिए बेहतर आजीविका के अवसर भी खोलेगा।

इसके अलावा, संरक्षित क्षेत्र परमिट की वैधता 15 दिनों के लिए बढ़ा दी गई है। अब पर्यटक अधिक समय तक लेह की अपनी यात्रा का आनंद ले सकेंगे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि एलएएचडीसी अधिनियम में कुछ बदलाव किए गए हैं और परिषद को व्यय के संबंध में और अधिक अधिकार दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि अब स्वायत्त परिषद क्षेत्र के विकास के लिए भेजी गई धनराशि जारी करती है

प्रधानमंत्री ने अंतरिम बजट के बारे में बताया कि अनुसूचित जनजातियों के कल्याण के लिए आवंटन में 3% और अनुसूचित जातियों के विकास के लिए लगभग 35% की बढ़ोतरी की गई है।

आप इस बार के चुनाव में किसे वोट देंगे - अभी वोट करें

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव Priyanka Gandhi को जोधपुर सीट से चुनाव लड़ने के लिए भेजा पत्र, विवेक बंसल से भी की मांग

कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव Priyanka Gandhi को जोधपुर सीट से चुनाव लड़ने के लिए भेजा पत्र, विवेक बंसल से भी की मांग

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद पुरोहित ने जोधपुर लोकसभा सीट से कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी को चुनाव लड़ने का न्योता दिया है। कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव विवेक बंसल के सामने वाड्रा के वकील आनंद पुरोहित पेश होकर खुद ने जोधपुर की लोकसभा सीट से टिकट मांगा है, मगर साथ ही टेक्स्ट मैसेज के अलावा टि्वटर के जरिए प्रियंका गांधी को संदेश भेजकर जोधपुर की लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने का आग्रह किया है।

जोधपुर: लोकसभा चुनाव के लिए प्रत्याशियों का नाम तय करने को लेकर यूं तो जोधपुर शहर और देहात कांग्रेस ने एक लाइन का प्रस्ताव मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का नाम पारित किया था, शनिवार को भी इसकी पुनरावृत्ति हुई जिसके तहत गहलोत जिसे भी चाहेंगे जोधपुर से चुनाव लड़वा सकते हैं. लेकिन फिर भी शनिवार को कांग्रेस के सह प्रभारी एवं राष्ट्रीय सचिव विवेक बंसल ने जोधपुर में कार्यकर्ताओं से इसको लेकर बातचीत की इस दौरान कई लोगों ने अपनी दावेदारी पेश की. लोगों ने वैभव गहलोत को चुनाव लड़ाने के लिए भी मांग की, लेकिन इन सबके बीच कांग्रेस के कद्दावर नेता एवं पूर्व अतिखाली महाधिवक्ता आनंद पुरोहित में विवेक बंसल के सामने अपनी खुद की दावेदारी के साथ ही प्रियंका गांधी को जोधपुर से चुनाव लड़ाने के लिए आग्रह किया.

पुरोहित में इसको लेकर प्रियंका गांधी को भी पत्र लिखा है. पुरोहित का कहना है कि जोधपुर वह जगह हैं जिसमें कई स्वतंत्रता सेनानी दिए हैं , तीन मुख्यमंत्री यहां से निकले हैं. ऐसे में अगर प्रियंका गांधी जोधपुर से चुनाव लड़ती है तो इसका संदेश पूरे प्रदेश में जाएगा और कांग्रेस प्रदेश की पूरी 25 सीटें जीत पाएगी . गौरतलब है कि जोधपुर में अभी कांग्रेस के पास लोकसभा चुनाव को लेकर कोई बड़ा चेहरा नहीं है, वैभव गहलोत का नाम भले ही सामने आ रहा है लेकिन जातीय समीकरणों की माने तो वैभव गहलोत के लिए जोधपुर की डगर आसान नहीं है, क्योंकि पिछले 4 चुनाव में यहां मजबूत और मार्शल जाति के लोग ही चुनाव जीत पाए हैं. जिनमें राजपूत और विश्नोई ने जीत हासिल की है.

वर्तमान में भी गजेंद्र सिंह शेखावत राजपूत समाज से हैं और केंद्र में मंत्री हैं. इससे पहले चंद्रेश कुमारी राजपूत समाज से थी और वह भी केंद्र में मंत्री रही, उससे पहले भाजपा के जसवंत सिंह विश्नोई ने चुनाव जीता था. ऐसे में कांग्रेस के पास अभी राजपूत और विश्नोई दोनों ही जातियों में कोई बड़ा चेहरा नहीं है. जिसे मैदान में उतारा जा सके.

हालांकि अशोक गहलोत हर चुनाव में कोई नया चेहरा ही मैदान में लाते हैं. जैसा कि उन्होंने 29 में जोधपुर राजपरिवार की बेटी चंद्रेश कुमारी जो कि हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस की राजनीति करती थी, उनको मैदान में उतार कर सबको चौंका दिया था. ऐसे में अगर जोधपुर से कांग्रेस कार्यकर्ताओं की मांग पर प्रियंका गांधी चुनाव लड़ती है तो इसका असर पूरे प्रदेश में जाएगा. कांग्रेस जोधपुर में फिर मजबूत हो जाएगी. देखना यह है कि गहलोत इस बार लोकसभा चुनाव का दांव किसhj खेलते हैं, क्योंकि मुख्यमंत्री बनने के साथ ही उनके लिए प्रदेश में कांग्रेस को लोकसभा चुनाव में ज्यादा से ज्यादा सीटें दिलाना भी बड़ी चुनौती से कम नहीं है.



घर बैठे फ्री पैसे कमाने के लिए क्लिक करे यहाँ जाये

Web Title : Congress General Secretary Priyanka Gandhi sent letter to contest Jodhpur seat

घर बैठे फ्री में पैसे कमाने के लिए अभी देख - यहाँ कमाये

इस पोस्ट को अधिक से अधिक लोगो तक शेयर करे, और इस तरह के पोस्ट को पढने के लिए आप हमारी वेबसाइट विजिट करते रहे.